Pages

मोदीराज लाओ

मोदीराज लाओ
भारत बचाओ

गुरुवार, 20 मई 2010

जब मनमोहन जी ने साऊदी सुलतान से हिन्दूओं का नमोनिशान मिटाने का बायदा कर डाला। वारणशी से निकलने वाली पत्रिका में छपा हमारा ये लेख आपकी प्रतिक्रिया के इन्तजार में !

हमारा ये लेख वाराणसी से निकलने वाली  देशभक्त पत्रिका वन्देमातरम में छापा गया।सबसे पहले तो हम इस पत्रिका प्रबन्धकों के इस बात के अभारी हैं कि उन्होंने भारतविरोधी-हिन्दूविरोधी षडयन्त्रों पर लिखे गए इस लेख को छापने का साहस दिखाया वो भी अक्षरशह।अगर आपने भी भरातविरोधी षडयन्त्रों पर कुछ लिखा है तो आप भी उन्हें भेज सकते हैं हमारा विस्वास है कि देशहित की हर बात को छापने का मादा रखती है ये पत्रिका(http://vandemataramvaranshi.blogspot.com/
ज्यादा न लिखते आओ प्रसतुत है आपको अपना ये लेख।
मनमोहन खान की साऊदी अरब यात्रा के वारे में जानकर अपनी राए देकर पसंद का चटका लगाकर हमारे इरदों व कलम को ताकत देना न भूलें जी।

प्रधानमंत्री मनमोहन खान द्वारा भारत के इस्लामीकरण को आगे बढ़ाने के लिए जिहादी आतंकवाद के जनक सौदी अरब की यात्रा मुसलिम क्रांतिकारियों की भारत को देन फरबरी 2010 के अंतिम दिनों में भारत-विरोधी भारत सरकार के एंटोनियोमाईनोमारियो के गुलाम प्रधानमंत्री द्वारा सौदीअरब की यात्रा की गइ। जिसका मूल उद्देशया था भारत के इस्लामीकरण के लिए इस्लामिक आतंकवाद के जनक व पोषक सौदी अरब को भारत-विरोधी भारत सरकार(2004-2010) द्वारा उठाये गए कदमों की जानकारी देना व भविष्या में उठाये जाने बाले कदमों के बारे में आदेश प्राप्त करना। प्रधानमंत्री ने सौदीअरब के सुलतान को बताया कि उन्होंने भारत के हिन्दूओं को बता दिया है कि मर्यादापुर्षोत्तम राम और कृष्ण कालपनिक हैं व हिन्दूओं की धार्मिक और अध्यात्मिक पुस्तकें भी काल्पनिक हैं ।इसलिए भारतीय धर्म और संस्कृति बोले तो हिन्दू संस्कृति का कोई अस्तित्व नहीं है। हिन्दूओं को इसी बात का एहसाह करवाने के लिए हमने रामसेतू को तोड़ने का हर सम्भव प्रयास किया। लेकिन क्या करें तोड़ने के लिए लाई गई मसीनें ही टूट गईं नहीं तो हमने अदालत का फैसला आने से पहले ही उसे तोड़ देना था। सुलतान जी आप चिंता न करें भारत में बहुत जल्दी सब अदालतों में आपको 100प्रतिशत वकील मुसलिम क्रांतिकारी ही नजर आयेंगे।फिर फैसले भी मुसलिम क्रांतिकारियों की इच्छा अनुसार ही आयेंगे। हिन्दूओं को जलील करने के लिए हमने पहले बाब अमरनाथ यात्रा के लिए जमीन दी और फिर वापिस ले ली। जिसके बाद ये हिन्दू आतंकवादी 71 दिनों तक छाती पिटते रहे पर हमने एक ना सुनी हमने इन हिन्दू आतंकवादियों को देखते ही गोली मारने के आदेश तक दे दिए।इस अन्दोलन में महौल बनाने बाले हिन्दू आतंकवादी दयानन्द पांडे को हमने जूठे आरेप लगाकर जेल में डाल दिया व उसका चरित्र हनन करने का हरसम्भव प्रयास किया । आगे उन्होंने सुलतान को बताया कि भारत के हिन्दूओं को बता दिया गया है कि भारत के संस्साधनों पर पहला अधिकार मुसलमानों का है मुसलमानों के इसी अधिकार को ध्यान में रखते हुए सरकार ने प्राथमिकता के आधार पर मुसलिमबहुल जिलों का विकाश करने का निर्णय किया है इसलिए हिन्दूओं को ये संकेत दे दिया गया है कि अगर वो हिन्दूबहुल जिलों का विकास चाहते हैं तो वो जिहादी क्रांतिकारीयों व लब जिहाद का साथ देकर अपने जिलों को मुसलिमबहुल बनायें व सरकार से इनाम के तौर पर विकास पायें । लब जिहाद को सबसे अधिक सफलता केरल राज्या में मिलती हुई दिखाई दे रही है पर कुछ हिन्दू आतंकवादी इस लब जिहाद का विरोध कर रहे हैं इन हिन्दू आतंकवादियों ने लब जिहाद के विस्तार में रोड़े अटकाने के लिए केरल उच्च न्यायलय में मुक्दमें दर्ज करवा दिए हैं।इन्हीं मुकदमों को ध्यान में रखते हुए हमने केरल उच्च न्यायलय में केन्द्र सरकार की ओर से 100 प्रतिसत एडवोकेट मुसलिम नियुक्त किए हैं ताकि कोई हिन्दू आतंकवादी एडवोकेट इस लब जिहाद के मार्ग में रूकाबट न डाल सके। बैसे वहां 1998 में कोयबटूर में हिन्दू आतंकवादी अडबानी द्वारा किए जा रहे हिन्दू आतंकवादियों के जलसे में बम्म फैंकने बाले मुसलिम जिहादी क्रांतिकारी मदनी का भी तो केश चल रहा है ।हमारे इस 100 प्रतिसत मुसलिम वकील नियुक्त करने बाले फैसले से मदनी जी को छुड़ानें में भी सहायता मिलेगी। हमने हिन्दूओं को उनकी औकात बताने के लिए ही अपनी सरकार के बजट को सांप्रदाचिक आधार पर बांट दिया। यही नहीं हमने बच्चों को मिलने वाली छात्रवृति तक को सांप्रदायिक आधार पर बांट कर छात्रवृतियों के एक बड़े हिस्से से हिन्दूओं के बच्चों को वंचित कर दिया।हमने हिन्दूओं को नोकरियों से बंचित करने के लिए मुसलमानों को आरक्षण की बात आगे बढ़ाई जिसे अदालतों ने रोकने की कोशिस की इसका समाधान भी हमें 100प्रतिसत मुसलिम वकील ही दिखाई देते हैं जिसका प्रयोग हम केरल से शुरू कर हे हैं। प्रधानमंत्री मनमोनखान ने सुलतान जी को आगे बताया कि हमने ये स्वांए महसूस किया कि देश के इस्लामीकरम में हिन्दूबहुल भारतीय सेना रूकावट पैदा कर सकती है इसीलिए हमने सेना में मुसलमानों की गिनती के बहाने मुसलिम क्रांतिकारियों की संख्या बढ़ाने का प्रयत्न किया जिसे सेना ने नकार दिया। सेना की इसी मुसलिमविरोदी हरकत का जबाव देने के लिए हमने मुसलिम क्रांतिकारियों की जासूसी करने वाले हिन्दू आतंकवादी कर्नल श्रीकांत पुरोहित को झूठे कोसों में फंसाकर जेल में डलबा दिया।हमारे पास कोई प्रमाण तो था नहीं इसीलिए हमने उस पर झूठे केस बनाकर मकोका लगवा दिया जिसे बाद में मकोका अदालत ने खारिज कर दिया क्योंकि वहाँ पर वकील हिन्दू आतंकवादी ही था।फिर भी हमने उसे जेल से नहीं छोड़ा ताकि हिन्दू आतंकवादियों का हौंसला न बढ़े।अदालतों में 100 प्रतिशत मुसलिम वकील रखने का निर्णय लेने के पीछे यह भी एक कारण रहा।हमने भारतीय सुरक्षाबलों में बड़े सतर पर मुसलिम क्रांतिकारियों की भरती शुरू कर दी है सच्चर कमेटी हमने इसी उदेशय के लिए बनाई थी ताकि हिन्दूओं के हकों को छीन कर मुसलमानों को देने में आसानी रहे । प्रधानमंत्री मनमोनखान ने सुलतान जी को आगे बताया कि हिन्दू धर्म का प्रचार-प्रसार करने वाली हिन्दू आतंकवादी साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर को रोतों-रात उठवाकर उसके साथ वही ब्याबहार किया जो कि हिन्दूओं के साथ एक मुसलिम देश में हो सकता है। प्रधानमंत्री मनमोनखान ने सुलतान जी को आगे बताया कि हमें मालूम है कि आर एस एस जैसे हिन्दू आतंकवादी संगठन आगे चलकर भारत के इस्लामीकरण में रूकाबटें पैदा कर सकते हैं इसीलिए हमने कर्नल पुरोहित के मामले में उन्हें लपेट कर बदनाम कर उनपर प्रतिबन्ध लगाने की कोशिस की लेकिन हमारे हाथ इसलिए बन्ध गए क्योंकि उसमें अबदुलकलाम का भी नाम आ गया बरना आज तक इन सब संगठनों पर प्रतिबन्ध लगा दिया होता। प्रधानमंत्री ने सौदीअरब के सुलतान को बताया कि हमने मुसलिम क्रांतिकारी अफजल को सर्वोच नयायालय के आदेश के बाबजूद फांसी पर नहीं लटकाया क्योंकि अफजल जैसे क्रांतिकारी ही हमारी ताकत हैं क्योंकि इन्हीं क्रांतिकारियों से प्रेरणा पाकर भारत का हर मुसलमान हथियार उठाकर हिन्दूओं का सारे भारत से उसी तरह सफाया करेगा जिस तरह हमारे मित्रों ने कश्मीघाटी से किया । अपने इसी मिशन को आगे बढ़ाने के लिए हमने कशमीरी क्रांतिकारियों को भारत बुलाया व बटाला हाऊस में हमला करने बाले क्रांतिकारियों पर मकोका नहीं लगाया क्योंकि ये मकोका तो हमने हिन्दू आतंकवादियों के लिए बनए रखा है बरना आज तक हम इसे पोटा की तरह समाप्त कर चुके होते। हमें लगा कि गुजरात की सरकार गुजकोका के माध्यम से जिहादी क्रांतिकारियों के काम पर रोक लगा सकती है इसीलिए हमनें विधानसभा द्वार चार बार पारित किए गए गुजकोका को मंजूरी नहीं दी क्योंकि हम नहीं चाहते कि किसी हालात में भारत के इस्लामीकरण की गति धीमी पढ़े। हमने ये निर्णय कर लिया है कि जो कोई भी भारत के इस्लामीकरम में रूकाबट पैदा करने की कोशिश करेगा उसे हम आतंकवादी करार देकर जेल में डाल देंगे अगर वे साधु सन्त हुआ तो उसका चरित्र हनन करेंगे। प्रधानमंत्री ने सौदीअरब के सुलतान को बताया कि हमने सर्वोच न्यालय के आदेस के बाबजूद बंगलादेशी मुसलिम क्रांतिकारियों को देश से बाहर नहीं निकाली वल्कि कानून में फेरबदल कर इनके लिए आसाम में रहना और सुविधाजनक वनाया। प्रधानमंत्री ने सौदीअरब के सुलतान को बताया कि हम ये सब काम विना एक्सपोज होते हुए इसलिए कर पाए क्योंकि आपके पैसे पर पलने बाले अधिकतर समातार चैनल, वालीबुड फिल्मनिरमाता व समाचार पत्र हमारे इस भारत के इस्लामीकरण के अभियान में बढ़चढ़कर सहयोग दे रहे हैं पर ये सब वीच-वीच में कभी कभार हिन्दू आतंकवादियों की बात भी रखने का दुहसाहस करते हैं इसीलिए कुछदिन पहले हमने इन पर प्रतिबन्ध लगाने का अभियान चलाया था उसके बाद से ये सब एक आबाज में हमारे मुसलिम क्रांतिकारियों के प्रचार-प्रसार में रात-दिन एक किए हुए हैं व इन्होंने हिन्दू आतंकवादियों का जीना हराम कर दिया है फिर भी आप इनको व हमारी पार्टी को मिलने बाले मेहनताने की रकम बढ़ा दें ताकि हम अपने इस इस्लामीकरम के कार्य में और गति ला सकें हो सके तो हिन्दू आतंकवादी संगठनों के नेताओं को भी खरीदने का प्रयास करें ताकि वो भी हमारी तरह सैकुलर होकर भारत के इसलामीकरण की प्रक्रिया में हमारा सहयोग कर सकें। आपको ये इसलिए भी बढ़ा देना चाहिए क्योंकि हमने मन्दिरों को अपने कब्जे में लेकर मन्दिरों का पैसा मुसलमानों को मक्कामदीना की यात्रा के लिए अनुदान के रूप में दिया जबकि हिन्दूओं पर कुम्भ यात्रा के लिए 20% जजिया कर लगाया। अन्त में सुलतान ने मनमोहन खान की पीठ थपथपाई और बताया कि ये संसार सिर्फ मुसलिम जिहादी क्रांतिकारियों के लिए बना है इसमें किसी गैरमुसलिम को रहने का कोई हक नहीं ।मदरसे इन क्रांतिकारियों के ट्रेनिंग सेंटर हैं व मस्जिदें ओपेरसन सैंटर ,बुरका हथियार धुपाकर ले जाने के लिए । सुलतान ने प्रधानमन्त्री को आदेश दिया कि इन सब का ख्याल रखो और हम आपके बोटों का ख्याल रखेंगे क्योंकि हमारे वोट मस्जिदों से आदेश मिले विना नहीं डलते। आगे और बहुत से कदम ठाने के लिए सुलतान ने आदेश दिए मनमोहनखान ने उनसबका बचन देकर अकशरसह पालन करने का बायदा किया......

19 टिप्‍पणियां:

honesty project democracy ने कहा…

आज इंसानियत और मानवता को इन पैसों और सत्ता के भ्रष्ट लोभियों ने पूरी तरह खत्म करने की तैयारी कर ली है / इन बेशर्मों को अब हम लोगों को एकजुट होकर सबक सिखाना ही होगा /विचारणीय प्रस्तुती / हम चाहते हैं की इंसानियत की मुहीम में आप भी अपना योगदान दें / पढ़ें इस पोस्ट को और हर संभव अपनी तरफ से प्रयास करें http://honestyprojectrealdemocracy.blogspot.com/2010/05/blog-post_20.html

दीर्घतमा ने कहा…

manmohan ki koi galti nahi hai wah to vegam ke gulam hai akhir soniya se desh aur hinduo se kya matalab desh rahe na rahe use to amerika wa pop ke uddeshya ko pura karna hai.
apne acchha karya kar rahe hai .
dhanyabad

AlbelaKhatri.com ने कहा…

he raam !

महफूज़ अली ने कहा…

Very Good...

सुनील दत्त ने कहा…

मबफूज जी व अलवेला जी जरा खुलकर कहें हम आपकी प्रतिक्रिया का वेशव्री से इंतजार कर रहे हैं।

zeal ने कहा…

Sunil ji-

Accept my heartiest congratulation for this wonderful post !

MMS doesn't know that he is playing with progress and Integrity of our nation. He is like 'Vibhishan'. He will be at peace only after selling our country. Disgusting are they who are selling 'Mother India' for sake of their chair.

They are not at all bothered about the security and progress of our country. They are selfish people ,living in delusion .Don't expect much from such politicians and PM.

And also don't expect from the so called intellectual people busy here in blogging. They are more interested in writing trivial stuff to get waah-waahi and to boost their EGO.

Our Great leaders will sell the country to Dubai, allow China to invade, permit Pakistan to hack Taj and so on..

It is all very disgusting. We are so helpless. Government is so lame.

My heart bleeds when i hear/see/read such issues. How a man can be so coward?

Again i congratulate you for this brilliant post. I bow my head in respect for you. We need more Indian citizens like you.

I am proud of you .

Divya
.

आनन्‍द पाण्‍डेय ने कहा…

बहुत खूब


आप और वंदेमातरम् पत्रिका को नमन

सुनील दत्त ने कहा…
इस टिप्पणी को लेखक द्वारा हटा दिया गया है.
भारतीय नागरिक - Indian Citizen ने कहा…

बहुत चिन्ताजनक स्थिति है..

पी.सी.गोदियाल ने कहा…

मोहरा है, ठेलने वाला तो कोई और है !

zeal ने कहा…

Divya nahi...Divyaaaaaaaa

Kindly corrrect it.

Do i write like males?...lol

PARAM ARYA ने कहा…

http://vedquran.blogspot.com/2010/05/no-problem.html

PARAM ARYA ने कहा…

वेद में केवल जीव का वर्णन आया है अपाहिज भ्रूण का नहीं । हत्या जघन्य अपराध है । ये जो मुरगे हलाल करते हो उनको जीव नहीं मानते क्या ? ये खा जाएं पूरा बकरा और तुमसे मारा न जाय एक भ्रूण , आश्चर्यजनक !

PARAM ARYA ने कहा…

हिन्दू जगेगा देश जगेगा । मुल्ला सोएगा तभी देश हंसेगा ।

alka sarwat ने कहा…

ये बेकार का पचड़ा मेरे देश के नौजवानों के दिमाग में भूसा भर दे रहा है
कहाँ आप फंसे इस चक्कर में
ऐसा चूल्हा न जलाओ जिस पे दुश्मन रोटी सेंक ले जाए

Rakesh Singh - राकेश सिंह ने कहा…
इस टिप्पणी को लेखक द्वारा हटा दिया गया है.
Rakesh Singh - राकेश सिंह ने कहा…

धारदार है पर बिलकुल सत्य लिखा है | विडम्बना तो ये है की इतने पे भी हम लोग उन्हें गद्दी पे बिठा रखा हैं |

sharmab8 ने कहा…

आपने बिलकुल सही कहा है.यह सारे कांग्रेसी वर्णसंकर और दोगली औलाद हैं.यह देश से हिन्दुओ का सफाया कर देंगे.हम तो पाहिले से ही इन कान्गारेसिओं की चालों का भंडाफोड़ करते आये हैं.लेकिन आज भी हिन्दू चुप बैठे हैं.आप हमारा ब्लॉग
bhandafodu.blogspot.com

सुनील दत्त ने कहा…

दिब्या जी धन्याबाद।
आपने विषय को समझा और विस्तार से अपनी राय दी जी।