Pages

मोदीराज लाओ

मोदीराज लाओ
भारत बचाओ

गुरुवार, 6 जून 2013

काँग्रेस और समाजवादी पार्टी हिन्दूओं का खून बहाने वालों को जेलों से छुड़वाकर व हिन्दूओं के बच्चों का हक छीनकर गैर हिन्दूओं को देकर हिन्दूओं से किस बात का बदला ले रहे हैं?


मित्रो आप सब देख रहे हैं कि हिन्दूओं पर जब भी कोई आंतकवादी हमला होता है तो सबके सब सेकुलर गद्दार और सेकुलर पार्टियां कत्ल किए गए हिन्दूओं के साथ खड़े होने के बजाए देशभक्त हिन्दूओं का खून बहाने वाले भारतविरोधी आतंकवादियों को निर्दोष,अनपढ़ सताया हुआ बताकर इन खूनियों को बचाने के काम में लग जाते हैं।
पहले तो ये सब मिलकर पुलिस पर दबाब बनाकर पुलिस को इन आतंकवादियों के बिरूद्ध कार्यवाही करने से रोकते हैं और अगर कहीं ये आतंकवादी सुरक्षाबलों के हाथ आ ही जायें तो ये पार्टियां इन आतंकवादियों खासकर इसलामिक आतंकवादियों को छोड़ने के काम में लग जाती है और हिन्दूओं को साफ सन्देश देती हैं कि हिन्दू मरते हैं तो मरें पर इन पार्टियों को हर हाल में  आतंकवादियों के साथ खड़ा होना है..
मित्रो इन पार्टियों की इस तरह की कार्यवाही जहां आतंकवादियों का हौसला बढ़ाती हैं वहीं दूसरी तरफ अपनी जान जोखिम में डालकर आतंकवादियों को पकड़ने वाले सुरक्षाबलों का हौसला भी तोड़ती हैं और हद तो तब हो जाती है जब आतंकवादियों की मददगार ये पार्टियां सैनिकों को आदेश देती हैं कि जब आतंकवादियों से लड़ने जाना है तो निहत्थे होकर जाना है साथ ही सुरक्षा बलों द्वार चलाई गई एक एक गोली का हिसाब मांगकर उन पर ये दबाब बनाती हैं कि आतंकवादियों को न मारा जाए परिमामस्वारूप आजकल आतंकवादियों से कही ज्यादा शंख्या में हमारी सेना के जवान मारे जा रहे हैं और जो काम एक गंटें में खत्म हो सकता है उसके लिए सैनिकों को की दिनों तक अपनी जान को जोखिम में डालना पड़ा रहा है...
आप सबको जानाकरी होगी ही कि आज जब हम ये समाचार लिख रहे हैं तो कशमीर घाटी में पिछले दो दिनों से इसलामिक आतंकवादियों और सेना के बीच में जंग चल रही है...
इसी वक्त उतर प्रदेश में माननीय न्यायलय समाजवादी पार्टी को इस बात के लिए कटघरे में खड़ा कर रहा है कि क्यों समाजबादी पार्टी विना कोर्ट में सुनबाई हुए वाराणसी में संक़मोचक मन्दिर में बमबिस्फोट करने वाले इसलामिक आतंकवादी को छोड़ने की जिद कर भारतीयों की सुरक्षा को खतरे में डाल रही है...
मित्रो अभी-अभी 8-8:30pm NDTV(Eng) पर इसी मुद्दे पर चर्चा हुई जिसमें एंकर निधी ने विलकुल सही ढंग से आतंकवादियों के मददगारों की खबर ली ...यहां पर ये सपष्ट देख गया कि इसलामिक आतंकवादी उमर फारूकी और मनु सिंघवी इस बात पर पूरी तरह से सहमत थे कि मुसलिम आतंकवादियों जिन्हें वो मासूम करार दे रहे थे को हर हाल में छोड़ा जाना चाहिए...
आपको याद होगा कि अभी हाल ही में प्रखर देशभक्त महेन्द्र कर्मा सहित 27 काँग्रेसियों का कत्ल बामपंथी आतंकवादियों ने किया और मजेदार बात ये है कि इन बामपंथी आतंकवादियों ने न तो मुसलामनों को मारा और न ही ईसाई अजीत जोगी के मित्रों को ...सिर्फ चुन-चुन कर हिन्दूओं को मौत के घाट उतारा गया....
इतने बड़े हमले के बाद भी ईसाई(?) दिगविजय सिंह ने इन खूनी बामपंथी आतंकवादियों को अपना भाई बताकर अपनी हिन्दूविरोधी-देशबिरोधी मानसिकता का परिचय दिया...
आप सबको याद होगा कि यह दिगविजय सिंह वही गद्दार है जिसने वटला हाऊस मुठभेड़ के बाद शहीद मोहन चन्द जी के साथ खड़ा होने के बजाए इसलामिक आतंकवादियों का साथ दिया और सलमान खुरशीद के अनुशार बटला हाऊस मुठभेड़ में मारे गए इसलामिक आतंकवादियों के लिए काँग्रेस अध्यक्षा एडवीज एंटोनिया अलवीना माइनो सारी रात फूट-फूट कर रोई ...इससे पहले मनमोहन सिंह भी हिथरो हबाई अड़्डे पर हमला करने वाले इसलामिक आतंकवादी के लिए सारी रात रोते रह चुके हैं...
आप सबको जानकारी होगी ही कि यही मनमोहन सिंह और एडवीज एंटोनिया अलवीना माइनो दो दो कमेटियां एक सच्चार कमेटी और दूसरी  कशमीर पर बना चुके हैं जिनका जिम्मा इन हिन्दूविरोधीयों ने ISI Agent Justice Rajender  Suchar और राधा कुमार जैसे भारतविरोधी दुशमनों को दिया... ISI Agent Justice Rajender  Suchar के नेतृत्व वाली सच्चर कमेरी का सहारा लेकर काँग्रेस हिन्दूओं के बच्चों के अधिकार छीनकर गैर हिन्दूओं को देने के लिए हर वक्त कोई न कोई षडयन्त्र अन्जाम दे रही है....
आप सबको याद होगा कि 2008 में मुम्मबई पर हुआ हमला ईसलामिक आतंकवादियों ने किया  लेकिन  काँग्रेस का कहना है कि ये हमला RSS यानिके हिन्दूओं ने किया और मजेदार बात ये है कि इस बात पर एक इसलामिक आतंकवादी ने एक पुस्तक लिखी जिसका विमोचन काँग्रेस के महासचिब ने किया...
मित्रो आपको ये भी जरूर जानकारी होगी ही कि अभी कुछ दिन पहले उत्तर प्रदेश में एक इसलामिक आतंकवादी की मौत लू लगने से हो गई जिसके लिए SP सरकार ने 42 पुलिस बालों को Suspend किया...इस आतंकवादी को आतंकवादियों की इस सरकार ने 6 लाख रूपए दिए जबकि आतंकवादियों द्वारा मारे गए 27 काँग्रेस से जुड़े हिन्दूओं के परिवारों को सिर्फ 5-5 लाख....
मित्रो आपको ये भी याद होगा ही कि उतर प्रदेश में मारे गए DSP जियाऊल हक के परिवार को  SP सरकार ने 25 लाख मुआबजा और परिवार के तीन सदस्यों को नौकरी मिडीया में लगातार कबरेज ...पिछले कल ही सहारनपुर में DSP का कत्ल हुआ जिसकी कोई बात नहीं कर रहा हम दावे से कह सकते हैं कि मरने वाला हिन्दू होगा और मारने वाला मुसलमान......
आप सबको इस बात की जरूर जानकारी होगी कि कशमीर घाटी में काँग्रेस इसलामिक आतंकवादियों को 3 लाख की FD दे रही है व मारे गए आतंकवादियों के परिवारों को पेंसन... प्रश्न सिर्फ इतना है कि
 काँग्रेस और समाजवादी पार्टी हिन्दूओं का खून बहाने वालों को जेलों से छुड़वाकर हिन्दूओं के बच्चों का हक छीनकर गैर हिन्दूओं को देकर हिन्दूओं से किस बात का बदला ले रहे हैं

1 टिप्पणी:

दीर्घतमा ने कहा…

हिन्दुओ का इन्हें ओट देना ही उनके लिए घातक सिद्ध हो रहा है सोनिया इस देश को ईसाई राष्ट्र बनाने के लिए कृत संकल्प है छत्तीस गढ़ माओबादी घटना में सोनिया हाथ है आखिर अजित जोगी आधे घंटे पहले क्यों भाग गया ----? सेकुलर पार्टियाँ देश के साथ खिलवाड़ कर रही है .