Pages

मोदीराज लाओ

मोदीराज लाओ
भारत बचाओ

मंगलवार, 7 मई 2013

भाजपा क्यों हारी?????


हमारे बहुत से देशभक्त मित्र बहुत मेहनत से कर्नाटक में भाजपा की विजय सुनिशचित करने के लिए दिन-रात एक किए हुए थे लेकिन भाजपा फिर भी हार गई...हम समझ सकते हैं कि बहुत से मित्र इसे अपनी-अपनी तरह से देखेंगे ...लेकिन हम समझते हैं कि हमारे मित्रों को अब दिन रात एक कर भाजपा को उन कमियों को दूर करने के लिए बाध्य करना होगा जिनकी बजह से भाजपा हारी...सबसे पहली बात तो ये कि भाजपा को भारतीय जनता तब चुनती है जब वो सेकुलर गद्दारों के हिन्दूविरोधी-भारतविरोधी कुकर्मों से त्रस्त हो जाती है लेकिन जब भाजपा भी सेकुलर गद्दारों के कुकर्मों को खत्म करने के बजाए उन्ही को आगे बढ़ाती है तो लोग भाजपा को बहुत बुरी तरह से हराते हैं और दोवारा उसकी तरफ नहीं आने का प्रण करते हैं हमारे बहुत से विस्लेषक इस बात को देखकर दंग रह जाते हैं कि जिस काँग्रस या फिर सेकुलर गिरोह ने भारतविरोधी आतंकवादियों से मिलकर भारत को इतनी बुरी तरह लहुलुहान किया है लो क्यों उन्हीं को दोवारा चुनते हैं हमारा मानना है कि लोग इस बात के आदी हो चुके हैं कि सेकुलर गिरोह का काम ही भारत को लूटना और लहुलुहान करना है इसलिए इस गिरोह की किसी भी गद्दारी को हमारे बौद्धिक गुलाम लोग बहुत गम्भीरता से नहीं लेते और जब भाजपा गद्दारी करती है तब यही लोग भाजपा की गद्दारी को बिस्वासघात की तरह देखते हैं और उससे नाराज हो जाते हैं बैसे भी नाराजगी अपनों से ही अधिक होती है परायों से नहीं ...अगर हम कर्नाटक की बात करें तो कर्नाटक में भाजपा ने भारत से गद्दारी और हिन्दूओं के कतलोगारद की शिक्षा देने वाले मौलवियों को मासिक भता दिया या उसे जारी रखा...इसी तरह जब कर्नाटक में इसलामिक आतंकवादियों ने आसाम में इसलामिक घुसपैठियों द्वारा भारत के मूल निवासियों पर किए जा रहे हमलों के समर्थन में हमले शुरू किए तो भाजपा ने उन हमलों को रोकने के लिए कोई कठोर कदम उठाने के बजाए वही सेकुलेरिसम की चटनी लोगों को चटाई जिसे चटाकर आज तक काँग्रेस ने हिन्दूओं का लहू पानी की तरह आपने वोट बैंक की रक्षा के लिए बहाया है...इसी तरह काँग्रेस दशकों से कर्नाटक की खदानों को मनमाने ढंग से लूट रही थी भाजपा ने भी उस लूट को रोकने के लिए कड़े कदम उठाने के बजाए उस लूट को यथाबत जारी रखा ...कुलमिलाकर भाजपा ने लोंगों को ये एहसास ही नहीं करवाया कि कर्नाटक में अब सेकुलर गद्दारों के बजाए देशभक्तों की सरकार है अब आप ही बताओ कि देशभक्त वोटरों का जोश कैसे बनता ...अन्त में चुनाबों की पूरी कमान भाजपा ने नरेन्द्र भाई मोदी के हाथों में देने के बजाए उसी जुंडली के हाथों में दे रखी जो भाजपा को पिछले दो लोकसभा चुनाब व कई बिधानसभा चुनाब हरवा चुकी है जब तक भाजपा इस सुषमा-जेटली—अन्नत कुमार जैसी जुंडली से खुद को मुक्त नहीं करती तब तक न भाजपा प्रखर राष्ट्रबाद के मार्ग पर आगे बढ़ेगी और नही भाजपा को कहीं भी अपेक्षित जीत मिलेगी अगर भाजपा ने इसी जुंडली को आगे रखकर लोकसभा चुनाब लड़ा तो भाजपा की 50-75 से अधिक सूटें किसी भी सूरत में नहीं आयेंगी ...भाजपा को ये समझना होगा कि हम काँग्रेस के नेतृत्व वाले सेकुलर गिरोह को जितनी भी गाली निकाले लेकिन एक बात हमेशा उनके हित में जाती है कि वो जो कहते हैं करते हैं और जो करते हैं उसे पूरे जोरसोर से आगे बढ़ाते हैं जैसे कि इस गिरोह ने भारतविरोधी आतंकवादियों और गद्दारों को बचाने का बीड़ा उठाया है तो उसे हर हाल में निभाया है जब भी कोई इसलामिक या वामपंथी आतंकवादी हमला होता है ये सेकुलर गिरोह अपने द्वारा पोषित चैनलों के माध्यम उस अपराध का दोष हिन्दूओं के सिर मढ़ देता है और यही नहीं इस सेकुलर गिरोह ने कशमीर घाटी सहित देश के कई हिस्सों में इसलामिक आतंकवादियों को मारने वाले सैनिकों व पुलिस के जवानों और अधिकारियों को जेलों में ढालकर उन जुल्म ढाकर सब आतंकवादियों को खुला सन्देश दिया कि तुम लोग खुलकर हिन्दूओं का कतलयाम करो तुम्महारा हमारे रहते कोई बाल भी वांका नहीं कर सकता और कुछ कसर रह गई तो काँग्रेस ने सुरक्षाबलों द्वारा मारे गए आतंकवादियों को मासिक पैंसन व 300000 की एकमुस्त जमा राशि देकर अपने इरादों का सपष्ट प्रमाण दे दिया...फिर भी कुछ कमी रह गई हो तो सरकार ने अर्धसैनिक बलों के जवानों को शहीद होने पर मिलने वाली राशिश को बन्द कर सपष्ट सन्देश दिया कि सेकुलर गिरोह को भारतीय रक्षकों के बजाए भारतविरोधी आतंकवादियों की ज्यादा चिन्ता है और भाजपा ने क्या किया भजपा ने काँग्रेस द्वारा इसलामिक आतंकवादियों को छोड़कर उनकी जगह जेलों में डाले गए निर्दोश हिन्दूओं के पक्ष में वोलने के बजाए उन्हें जेलों में सड़ने को चोड़ दिया...इसी तरह कांग्रेस इटालियन अंग्रेज द्वारा भारत को लूटने के प्रण को हर तरह से आगे बढ़ा रही है और भाजपा उसका खुलकर विरोध भी नहीं कर पा रही है कुलमिलाकर जबतक भाजपा प्रखर राष्च्रबाद के मार्ग पर आगे नहीं बढ़ती तब तक भाजपा की यही दुर्गति होगी और होनी भी चाहिए इस पर किसी भी देशभक्त को दुखी होने के बजाए या तो हिन्दूविरोधी जुंडली के बिरूद्ध सीधी कार्यवाही करते हुए भाजपा को इस जुंडली से मुक्त करना चाहिए या फिर हिन्दूहित-देशहित के लिए काम करने वाला न्या दल त्यार करना चाहिए...

1 टिप्पणी:

तुषार राज रस्तोगी ने कहा…

बहुत ही सटीक और सार्थक लेख | आभार

कभी यहाँ भी पधारें और लेखन भाने पर अनुसरण अथवा टिपण्णी के रूप में स्नेह प्रकट करने की कृपा करें |
Tamasha-E-Zindagi
Tamashaezindagi FB Page